fbpx

Health aur fitness business mein jyada profits kaise kare?

🗨 1 comment

Why aren’t these things taught in schools about how to create profit in health & fitness business?

Truth is tech cos are dominating the world – including the health space. Plus, most people would love to spend 50K on mobiles but hate to give 500 to a health expert.

Learn the only 3 ways which can boost your profits… learn and earn.

Prefer video?

Transcript 

तो हेल्थ और फिटनेस के फील्ड में हम प्रॉफिट किस तरीके से निकालें? लेकिन सबसे बड़ी बात तो यह है कि इन चीजों के बारे में हमें ना स्कूल में बताया जाता है, ना कॉलेज। बताया जाता है की बिज़नेस किस तरह से करना है, प्रॉफिट किस तरीके से निकालना हैं? अगर हम इन चीजों के बारे में पता ही नहीं होगा तो ये समझिए कि हम 1,00,00,000 का प्रॉफिट वन सी आर का प्रॉफिट किस्से किस निकाल पाएंगे। हम देखिये आस पास में बहुत सारे टेक कंपनीज है हैल्थ की फील्ड में मैं नाम तो क्या लू आई ऐम शुर यू नो आपने ऐडवर्टाइजमेंट में देखा होगा कि ऐसी कम्पनीज़ आ रही है जिनके फाउंडर्स बिल्कुल भी ज़ीरो नॉलेज रखते हैं। उनको फील्ड का नॉलेज कुछ भी नहीं है। अगर उनको पूछा जाए कि 20 आप कौन सी है, ट्राईसेप कौन सी है या सिर्फ शासन क्या है या नुट्रिशन के बारे में कुछ पता नहीं। उनको ज़ीरो नॉलेज होगी, लेकिन क्योंकि उनके पास में इन्वेस्टर मनी है वो टेक कंपनी बना देती है। ऐंड दे काइन्ड ऑफ नोटरी टू रूल द फील्ड अनफारचुनेटली यह कहीं ना कहीं देखिये रिफ्लेक्ट करता है। ये आपका प्रॉफिट भी लेकर जाता है। क्योंकि दे आर गेटिंग ऑल द टेंशन दे अर गेटिंग एवरीथिंग ना। किस तरीके से हमें अपने बिज़नेस में प्रॉफिट लेके आना है अपने हेल्थ वेलनेस फिटनेस के बिज़नेस में किस तरीके से हमे प्रॉफिट लेके आना है उसके बारे में इस पॉडकास्ट में मैं बताऊँगा बात करूँगा तो डेफिनेटली इसको आखिरी तक सुनेंगे की बिकॉज़ बहुत इम्पोर्टेन्ट है ये भी और अगर आप चैनल पे नहीं है, ये पॉडकास्ट पे नहीं है तो दूध लाइट एंड सब्सक्राइब एंड ऑफकोर्स सबसे पहले तो कैसे करेंगे? बट डू सब्स्क्राइब येस यू कैन सब्सक्राइब टु पॉडकास्ट मीनवाइल लैटेस्ट मूवी? नहीं, खासकर हैल्थ की फील्ड में। एक सबसे बड़ी प्रॉब्लम ये होती है कि क्लाइंट्स उतने कन्विंस नहीं होते हैं, ज्यादा पैसा देने के लिए उनको यूट्यूब में वीडियो देख लेती है या गूगल पे कोई आर्टिकल पढ़ लेती है। तो उनको यह लगता है कि वे आरे एक्स्पर्ट देखिये ऐसा एक अंग्रेजी में किसी ने बोला है की एव्रीवन हूँ हैज़ा हार्ट इस हर्ट एक्स्पर्ट तो जीस किसी के पास भी एक दिल है तो वो एक हर्ट एक्स्पर्ट है जिसे किसी के पास भी एक बॉडी है। हुसैन एक्स्पर्ट इन दैट जो खाना बनाना जानता है। हिसं। एक्स्पर्ट इन न्यूट्रिशन तो क्लाइंट्स थोड़ी सी र सिस्ट फील करती है। टु बी फॉर हेल्थ कोचिंग उसमें डेफिनेटली न्यूट्रिशनिस्ट भी आ जाती है, फिटनेस ट्रेनर्स भी आ जाती है। योगा टीचर्स भी आ जाते हैं, थेरपिस्ट भी आ जाते हैं। देखिये अब आप ये देखिये की इस अनिल शेमफुल कि लोग 50,000 का मोबाइल खरीदेंगे। बट जिन जिन के लिए जेम्स अटेंड करने के लिए उनके पास ₹500 भी नहीं होते हैं और न्यूट्रिशनिस्ट को भी ₹500 देते हैं और सम योगा टीचर्स योगा उनकी हेल्थ एंड वेलनेस में सेम उनका यही सीन रहता है। सो हाउ कैन यू गेट द प्रॉफिट? हाउ कैन यू लीव द लाइट दैट यू वॉन्ट? किस तरीके से कर सकते हैं? देखिये सबसे पहले तो हमें एक चीज़ समझनी पड़ेगी। ऐसा बिज़नेस ओनर आपको एक चीज़ समझनी पड़ेगी। दैट यू कांट बी एव्रीवेयर। यू कैननॉट बी एवरी वेयर? इस एक फन डे को अच्छे तरीके से आपको समझना पड़ेगा। मैं यू ये किस लिए बोल रहा हूँ क्योंकि बहुत सारे बिज़नेस होते हैं ऐसा बिज़नेस ओनर्स व्हाट वी वॉन्ट कि हर एक चीज़ हमारी परफेक्ट होनी चाहिए? हमारा बिज़नेस एक जो है ऐसा होना चाहिए की बस लोग देखे तो उसके साथ असोसिएट हो जाए। जुड़ जाए फॉर लाइफटाइम विच इस ए गुड विच इस ए गुड इन टेन्शन। गलत इंटेन्शन नहीं है यह बहुत दिक्कत यह है दैट यू कैन बी एव्रीवेयर। आपको बहुत पैसा खर्च करना पड़ेगा। विच डू नॉट हैव? आपके पास इन्वेस्टर मनी नहीं है, जो हमारी स्टार्टअप्स के पास होता है वो आपके पास में नहीं है, सो आप कुछ ऐसा आउट ऑफ द वर्ल्ड कुछ क्रिएट नहीं कर। बट यहाँ पे एक चीज़ ध्यान रखने वाली है कि आपको सीन्स यू कैन बी एव्रीवेयर आपको बिज़नेस के ऊपर भी काम करना है, बिज़नेस के अंदर भी काम करना है। आपको न्यूट्रिशन के बारे में बताना है, युवा के बारे में बताना है, लोगों को मोटिवेट भी करना है साथ ही साथ आपको बिज़नेस से बाहर जाके सेल्स लीडस् लेके आनी है, मार्केटिंग भी करनी है तो यू कैन बी एव्रीवेयर यू कैन इधर वर्क ऑन ओर वर्क इन बिज़नेस? ईज़ी इसका समाधान ये है दैट यू हैव टु क्रीएट प्रोडक्ट्स। ना अब आपको लगा की शायद ये ये क्या चीज़ है हाउ कैन आई? क्रिएट प्रोडक्ट्स देखिये आप को अडैप्ट करना पड़ेगा इफ यू अडैप्ट। देन हम उस चीज़ से जो है इस चीज़ को हम बेहतर तरीके से कर पाएंगे। और अडैप्ट में क्या करना है? हमें नए प्रॉडक्ट बनानी है। प्रॉडक्ट कैसे बनानी है डिजिटल प्रोडक्ट्स से स्टार्ट कर सकते हैं क्योंकि इसमें इन्वेस्टमेंट कुछ नहीं होता है। आपका कोई खर्चा नहीं लगता है। डिजिटल प्रोडक्ट्स इस द बेस्ट वे टू गो और आप। एक ही साथ में बहुत लोगों तक पहुँच सकते हैं। राइट इतनी आप। शायद अगर आप छोटे शहर से होंगे, आप इमेजिन कर सकते हैं। इतने लोगों तक आप नहीं पहुँच सकते हैं की जीतने आप डिजिटली पहुँच सकते हैं तो डिजिटल प्रोडक्ट्स आज का ज़माना है कि अगले आने वाले सालों में तो ई लर्निग इस गोइंग टु बिकम अह यूज़ थिंग तो आपको इसी में इसका ट्रेंड है। ये जो लॉन्ग टर्म ट्रेंड है उसी के ऊपर आप आके अपना बिज़नेस को बढ़ा कर सके। अंदर इम्पोर्टेन्ट थिंग इस की आपको डिफ़रेंट। ऑफर्स बनाने पड़ेंगे। डिफरेंट क्लाइंट्स के लिए डिफरेंट ऑफर्स बनाने पड़ेंगे। तो कुछ क्लाइंट्स जो ज्यादा पे नहीं कर सकते हैं, उनके लिए थोड़ा सा कम चार्ज करना है ना कितना चार्ज कर सकते हैं एनीथिंग अराउंड ₹10,000। फिर थोड़ा सा जो है मीडियम एक मीडियम बकेट बनाना है अराउंड 20,000 30,000 फिर सबसे एक हाइएस्ट एक बकेट बनाना है। ओर यू कैन चार्ज फ्रॉम 50,000 ₹1,00,000 आपको ये ध्यान रखना है देखिये यू कैन चार्ज अप 220 लखस पर मंथ येस यू कैन चार्ज 20,00,000 पर मंथ? बस उसके लिए आपको क्लाइंट्स बहुत ज्यादा नहीं मिलेंगे। कम मिलेंगे। बट मी पौंड। इसकी आपको हर क्लाइंट्स को सिमिलर ट्रीटमेंट देने की जरूरत नहीं है। हाँ, आपको सारे जो है प्रोडक्ट्स आप इस तरीके से प्रॉडक्ट बना सकते हैं की क्लाइंट्स को रिज। मिल जाए। ओके, एक बार आपने डिजिटल प्रॉडक्ट बनाया, क्लाइंट्स को आप उसको क्लाइंट्स को दे सकते है। सो दैट दे कैन सेल्फ स्टडी दे कैन वर्क ऑन देम सेल्फ ऐट रिजल्ट्स तो इतना तक आपको रखना है, इट्स नॉट लाइक की आपको जो है सब उनको यू हैव टु प्रोवाइड अकाउन्टबिलिटी दिन रात आप उनके पीछे उत्ते बैठे, आप उनके पीछे लग रहे है, नहीं ऐसा नहीं करना है। अगर ऐसा करेंगे तो यू विल नॉट बी एबल टु वर्क ऑन बिज़नेस यू विल नॉट बी एबल टु गो आउट ऐंड फाइन्ड लीडस् ऐंड क्लाइंट्स फॉर योर न्यू लीडस् इन क्लाइंट फॉर बिज़नेस तो ऐसा नहीं गलती करनी है। तो देखिये सिंपल सी बात है कि मोर यू लर्न दम ओर यू। कारण इस कोड बी तो जितना आप लर्न करेंगे उतना ही आप करेंगे ना ही इस द। क्रक्स डकोर ऑफिस पॉडकास्ट। ये जानने के बाद में आपको बिज़नेस की एक बहुत बड़ी अंडरस्टैंडिंग हो जाएगी। एक बहुत कोर अन्डरस्टैन्डिंग हो जाएगी जो शायद आई ऐम शुर जिन्होंने एमबीए किया हुआ है जो काफी सालों से बिज़नेस में हैं, उनको भी तरह क्लैरिटी नहीं होती है तो थिस इस बिग थिंग देर आर ओनली थ्री वेज़ यू कैन इनक्रीस योर प्रॉफिट ऐंड इन्क्रीज़ योर बिज़नेस सिर्फ तीन तरीके हैं और वो तीन तरीके हैं या तो आप ज्यादा क्लाइंट्स लेके आये बिज़नेस में या आप ज़्यादा चार्ज करें या आप के जीतने भी क्लाइंट्स है उनसे आप। ओर ज्यादा प्रोडक्ट्स खरीदवाए नए नए प्रोडक्ट्स। दबाएँ। लाइक अगर आपके पास में फिलहाल लेट से अगर एक जिम में या एक योगा सेंटर में 10 क्लाइंट्स है। तो एक तरीका हो सकता है कि आप 10 के 20 करें। क्लाइंट्स पे यू आर मोर क्लाइंट **** जैसे एक दूसरा तरीका हो सकता है कि आप ज्यादा चार्ज करेंगे। लेटस सी यू अर चार्जिंग ₹1000 दे। न्यू स्टार चार्जिंग ₹2000 फिर ज्यादा फ्रिक्वेन्सी में आप सेल्स लेकर आए। इसका मतलब की लेट से यू अर चार्जिंग मंथ्ली। फिर आप हो सकता है अगर कोई नया प्रॉडक्ट निकालते हैं, जिसमें यु चार्ज, बी वीकली। राइट या आप कोई सप्लिमेंट लेकर आते हैं। ये सप्लीमेंट लॉन्च करते हैं तो यू नो फ्रिक्वेन्सी ऑफ सेल्स बढ़। तो इस तरीके से सिर्फ ये तीन तरीके हैं। राइट सो मुझे क्या लगता है चान्सेस आर अगर आप हेल्थ एंड वैलनेस में शुरू करना चाहते हैं या यू आर न्यू। आपके पास कुछ क्लाइंट्स है या आप इवन देन यू आर लॉन्ग टर्म द्वारा आप कहीं भी है सबसे आसान तरीका होता है ये स्टार्ट चार्जिंग मोर। इन्स्टंटली यू विल हैव बेटर प्रॉफिट ना कहीं लोगों को लगेगा की हम कैसे करें? हेल्थ फील्ड में कोई देना नहीं पसंद, कोई पैसा देना नहीं चाहता है। पीपल थिंक दैट दे डोंट नीड माइ अडवाइस, तो ये सब रहेगा नो डाउट सो इस यहाँ पे मैं आपको बोलना चाहता हूँ की सम वेर स्टार्ट चार्जिंग मोर बी गिविंग मोर वैल्यू ये बात आप थोड़ा सा ध्यान रखिए। देखिए वाइड डू वी पे सम वन वे पे क्योंकि हमें उससे वैल्यू मिल होती है। वैल्यू कब दे सकते हैं? आप अपने बिज़नेस में वैल्यू तब दे सकते हैं जब आप कोई प्रॉब्लम सॉल्व कर रहे हैं। जितनी बड़ी प्रॉब्लम सॉल्व कर रहे है ना आप उतना ज्यादा चार्ज करेंगे। राइट? एक क्लर्क है। और एक ऑफिसर हैं और एक सीईओ हैं। तो कौन ज्यादा बड़ी प्रॉब्लम सॉल्व कर रहा है? ऑफ कोर्स सीओ प्रॉब्लम सॉल्व कर रहा है। बड़ी और जितनी बड़ी प्रॉब्लम सॉल्व करता है उसका जो है उसको रिलेशन भी अच्छा होता है। कॉम्पेन्सेशन अच्छा होता है। उसकी सैलरी अच्छी। होती है। तो इसी तरीके से आपको एक ऑफर बनाना पड़ेगा की क्या प्रॉब्लम आप सॉल्व कर सकते हैं? कौन सी प्रॉब्लम सॉल्व? 

नहीं है। 

इफ यू वॉन्ट? टू लर्न मोर की आप किस तरीके से कर सकती है? तो आप मेरी वेबसाइट पे जाइए मोहिनीश निर्वाल.कॉम और वहाँ पे मीमे से ज्या मुझे फेसबुक या लिंकडइन या इंस्टाग्राम पे जाके मुझे मैसेज कीजिए और विल सी हाउ वी कैन इन्क्रीज़ प्रॉफिट फॉर यू नो मैटर वेर यू आर ओके? सो विथ थिस आई विल। सी यू इन नेक्स्ट पॉडकास्ट? 

Leave a Comment